नागों के रहस्य पुराणों से

नागों के बारे में सात आश्चर्य जनक बातें, जो आज तक पढ़ी या सुनी नहीं होंगी। चारो वेद, स्कंद पुराण, शिवपुराण, शतपथ ब्राह्मण, गरुड़ पुराण, एश्वरोउपनिषद आदि पुराने ग्रंथों में नागों के बारे में विस्तार से वर्णन है। 【1】बह्मांड में जितने भी सिद्ध-असिद्ध नाग हैं, वह सब भगवान शिव के समीप ही शिंवलिंग पर निवास करते […]

Continue Reading

भगवान शिव के बारे में, पुराणों से पार्ट-2

शास्त्रों, पुराणों के अनुसार “महिलाएं” बिना शल्य चिकित्सा के भी लिंग परिवर्तन कर सकती हैं। कैसे? जाने- प्राचीन आध्यात्मिक विज्ञान प्राचीन पुराणों का यह प्रसंग बहुत कम लोग जानते हैं कि शिवजी का दक्षिणांग यानि राइट साइड पुरूष एवं वामांग हिस्सा यानी लेफ्ट साइड नारी का है, इसलिए भगवान शिव को अर्धनारीश्वर कहा जाता है। […]

Continue Reading

शिवपुराण के अनुसार नमः शिवाय मन्त्र के बारे में बहुत ही दुर्लभ जानकारी पार्ट -1

सब चिन्ता मिट जाती है, और मिट जाता है डर शिव के साधक इस  दुनिया में भटके न दर दर भगवान शिव शान्ति, सुख-सम्पन्नता, ऐशवर्य का महाकोष हैं। !!ॐ नम: शिवाय!! पंचाक्षर मन्त्र यानि  पाँच अक्षर के मन्त्र के जाप द्वारा हम अपने भीतर एक अपार ऊर्जा, सिद्धियों का भण्डार और चुंबकीय शक्ति को विकसित […]

Continue Reading

बदलते मौसम में लेवें यह दवा, तो सालभर रहेंगे स्वस्थ्य-तन्दरुस्त और मस्त

पूरे वर्ष स्वस्थ्य-तन्दरुस्त रहने के लिए खाएं यह औषधि, आयुर्वेद की एक पुरानी कहावत है कि- मौसम और मुकद्दर की मार से कोई नहीं बच सकता। इसलिए मौसम की मार से बचाव के लिए  अमृतम फ्लूकी माल्ट का उपयोग करें और मुकद्दर की मार से बचने हेतु मेहनत और प्रार्थना करें। अमृतम दवाएँ-स्वस्थ्य बनाएं अमृतम आयुर्वेदिक […]

Continue Reading

अपामार्ग-एक दिव्य ओषधि

बहुत आसानी से खेतों में, जंगलों में सड़क के किनारे मिलने वाला अपामार्ग, लटजीरा, चिड़चिड़ा, ओंगा, अधेढो, आपांग, अध्धा झारा, आंधी झाड़ों, मर्जिका, उत्तरेनी, अतकुमह, Achyranthus Sapera एचिरेन्थस एस्पेरा आदि नामों से भारत में जाना जाता है। ■ यह गरीबी मिटाने वाली भी चमत्कारी बूटी है। ■■ बिच्छू विषनाशक 40 से अधिक तकलीफों को दूर […]

Continue Reading

ॐ की वैज्ञानिक और अध्यात्म शक्ति

प्रणव मन्त्र ॐ सभी विद्यायों की निधि है। शनि ग्रह के सदगुरु महर्षि पिप्पलाद ने “योग वसिष्ठ ग्रन्थ” में बताया है कि यह जो ओंकार शब्द है वह निश्चित ही परब्रह्म है, यही अपरब्रह्म भी है। ॐ की उपासना से व्यक्ति का जीवन भगवान सूर्य के समान भास्वर यानि प्रकाशित हो उठता है। दुनिया के सभी धर्मों में ॐ की […]

Continue Reading

अकेलापन अपनेआप में वरदान है

अकेलापन ही छलनी का काम देता है। अकेलेपन की आवाज को मानव समझ ले, तो वही वट-वृक्ष के नीचे मिला हुआ वरदान साबित होगा।  -कभी नदी के किनारे या फिर घोर घने वन में किसी शिवालय में नितान्त एकांत में चले जाएं। -किसी सुनसान में ही अपना मन्थन, चिन्तन कर पाओगे। -आत्मचिंतन से आत्मप्रेम उमड़ता […]

Continue Reading

होली का उत्सव

ये रंग न जाने कोई जात, न कोई बोली, मुबारक हो आपको रंग भरी होली। होली का उत्सव उमंग और उत्साहवर्द्धक असत्य, काम, क्रोध, नकारात्मक ऊर्जा वाले बलवान और राक्षस प्रवृत्ति वाले लोग बहुत तेजी से, तीव्र गति से बढ़ते हैं और बहुत जल्दी ही नष्ट या बर्बाद भी हो जाते हैं। होली का उत्सव- […]

Continue Reading

अदरक – खाएं बेधड़क, जाने 14 फायदे

अदरक के ओषधि गुण और चमत्कार संस्कृत में इसे आद्रिकम्य, आद्रशाक, पंजाबी में अदरख कहते हैं। यह जमीन के अंदर पूरे हिंदुस्तान में पैदा होता है। इसकी जड़ में एक प्रकार का कंद होता है, उसे अदरक कहा जाता है। अदरक एक कफ नाशक ओषधि के रूप में बहुत चलन में है। अदरक के बारे […]

Continue Reading

अतीस एक विषनाशक बूटी

सुश्रुत, बागभट आदि आचार्यों ने अतीस की जड़ को सर्प-नाग और बिच्छू के विष को नष्ट करने वाली बताया है। अतीस बच्चों के लिए अत्यंत गुणकारी ओषधि है। अकेली अतीस को पीसकर इसका पावडर 50 से 100 mg रोज मधु पंचामृत के साथ चटाने से बालकों के 100 अधिक दोष मिट जाते हैं।

Continue Reading
WhatsApp chat
error: Content is protected !!