Month: December 2019

स्टेरॉयड- शरीर को बर्बाद कर देता है। तन को खोखला बनाने में यह बहुत उपयोगी मीठा जहर है…

December 24, 2019

स्टेरॉयड को उपचय-एण्ड्रोजन स्टेरॉयड (एएएस) के रूप में जाना जाता है। आजकल की युवा पीढ़ी शीघ्र फायदे के लिए धड़ल्ले से सेवन कर जीवन तबाह कर रही है। जाने-लाभ और हानि यह एक दवा है जो कि पुरूष लिंग हार्मोन, टेस्टोस्टेरोन और डिहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन शार्ट नाम DHT के प्रभाव का अनुकरण करता है। यह डीएचटी हार्मोन चेहरे पर […]

Read More

कई युवकों ने गर्लफ्रैंड को प्रसन्न करने का उपाय पूछा है

December 24, 2019

अपनी गर्लफ्रेंड को खुश करने के  लिए मुझे क्या करना चाहिए? गर्लफ्रेंड यानी स्त्री क्या है- स्त्री का स्वभाव प्रकृति की तरह होता है। जैसे प्रकृति में कभी हवा, तो कभी तेज हवा, कभी पानी, कभी तूफान, कभी गर्मी और कभी बरसात। कभी भी स्थिर न रहना प्रकृति और स्त्री का स्वभाव होता है। एक […]

Read More
भविष्य वक्ता-बाबा तुलसीदास की भविष्य वाणी

भविष्य वक्ता-बाबा तुलसीदास की भविष्य वाणी

December 24, 2019

रामचरितमानस के लुप्त और दुर्लभ  दोहे, जिसे ज्यादातर बताया नहीं जाता। सन्त श्री तुलसीदास के अनुसार इस कलियुग में ज्ञानी, वक्ता, उपदेशक, कथावाचक और  नेता…  कैसे तथा कौन होंगे? वर्तमान स्थिति को पूर्व में भांपते हुए गोस्वामी तुलसी दास कई वर्ष पूर्व लिख गए थे। आप खुद आंकलन करें यह दोहे कितने सटीक हैं……. 【१】दोहा – कलिमल ग्रसे धर्म सब  […]

Read More
क्या युवा पीढ़ी को प्यार के चक्कर में पड़ना ठीक है? प्रेम में ब्रेक...एक क्रेकपन है।

क्या युवा पीढ़ी को प्यार के चक्कर में पड़ना ठीक है? प्रेम में ब्रेक…एक क्रेकपन है।

December 24, 2019

तुम्हारी गली से गुजरते, तो कैसे कि-  तगड़ी उधारी थी, तुम्हारी गली में! मोहब्बत की कैपिटल, लुटाते-लुटाते हो गए भिखारी तुम्हारी गली में।   प्रेम की सवारी जिसने भी की, वे लोग अधिकांश भिखारी ही बने।  कुंवारा हो या कुँवारी, जवानी के समय सबको प्यार का बहुत सवार रहता है। प्यार में तैयार बहुत बिरले लोग […]

Read More

क्या सेक्स से रिलेक्स सम्भव है-

December 19, 2019

सेक्स के बारे में अनुभवी लोगों के विचार नियमित  और सन्तुष्टि सम्पन्न सेक्स, शादीशुदा जिंदगी को खुशनुमा बनाए रखता है। दुनिया में सेक्स से रिलेक्स पाने वाले अधिकांश लोगों का मानना है कि शादी के बाद जीवनसाथी के साथ शारीरिक संबंध बनाना जरूरी है। ऐसा भी कहा जाता है कि- सेक्स, शादीशुदा जिंदगी को खुशनुमा बनाए रखता […]

Read More
Keyliv Malt

पेट को अपडेट रखता है..कीलिव माल्ट

December 19, 2019

युवा पीढ़ी के लिए बहुत खास– पेट की बीमारियों को दूर करने वाला- एक हर्बल सप्लीमेंट……   लेट-लतीफ सोने वाले लोग, खासकर युवा पीढ़ी, जो हमेशा कम्प्यूटर पर बैठकर काम में मशगूल है। इसकी वजह से जिनका पेट अक्सर खराब रहता हो और मोटापा बढ़ रहा है, तो उन्हें कीलिव माल्ट का सेवन अत्यंत लाभप्रद रहता है। शास्त्र और सहिंता […]

Read More
Amrutam Chawanprash

बुंदेलखंड के झांसी-ललितपुर में ही हुआ था। च्यवनप्राश अवलेह का सर्वप्रथम निर्माण……

December 17, 2019

दुनिया में बहुत कम लोग हैं जिन्हें  “अमृतम च्यवनप्राश”  के इतिहास के बारे में पता होगा। हम आपको बता रहे हैं आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में शरीर में स्फूर्ति प्रदान करने वाले उम्र रोधी यानि एंटीएजिंग टॉनिक अमृतम च्यवनप्राश को पहली बार किस ऋषि ने और किस स्थान पर  बनाया था? हम अमृतम पत्रिका के माध्यम से आपको आयुर्वेद की […]

Read More
Kuntal Care Hair

बालों के विकार के लिए एक सम्पूर्ण आयुर्वेदिक बास्केट.. .5 दिनों में असर दिखाए- रूसी खोंची झड़ना मिटायें

December 17, 2019

केश रोगों का जड़ से काम खत्म…. इस्तेमाल करें ये चारों ओषधियाँ 【】कुन्तल केयर  हर्बल हेयर स्पा 【】कुन्तल केयर  हर्बल हेयर शेम्पो ◆कुन्तल केयर  हर्बल हेयर ऑयल ◆कुन्तल केयर हर्बल अवलेह (माल्ट) बालों की जड़ों को मजबूत करने वाला हर्बल सप्लीमेंट इसे आप किसी को उपहार स्वरूप यानि गिफ्ट के रूप में देकर दवा और दुआ दोनो पा सकते हैं। हर्बल गिफ्ट जो मित्र के मन को भाए। […]

Read More
Vata Rog

वात रोग के लम्बे समय तक बने रहने से हो जाता है थायराइड

December 13, 2019

वातरोग या विकार के 17 लक्षण और शर्तिया इलाज-   वायु का प्रकोप–आयु घटा देता है…. आयुर्वेद का एक प्रसिद्ध श्लोक है वातोदयात भवेच्चिते, जड़ताsस्थिरताभयम। शुन्यत्वम विस्मृति: श्रान्तिररतिच्चित्तविभ्रम:।। अर्थात- वात-विकार से पीड़ित मानव शरीर में जब वायु का प्रकोप होता है, तब स्थिरता नहीं आ आती है। व्यक्ति तत्काल निर्णय या निश्चय नहीं कर पाता। […]

Read More

माला से पाएं शिवाला! क्यों होते हैं-माला में 108 मनके

December 13, 2019

क्यों होते हैं जपमाला में 108 मनके — माला में १०८ मनके होते हैं। जब भी किसी मंत्र का जाप किया जाता है तो वो 108 बार ही क्यों किया जाता है। आइए जानते हैं इसके बारे में…. योगचूड़ामणि उपनिषद में कहा गया है- पद्शतानि दिवारात्रि  सहस्त्राण्येकं विंशति। एतत् संख्यान्तिंत मंत्र  जीवो जपति सर्वदा।। आयुर्वेद शरीर विज्ञान के […]

Read More
WhatsApp chat