दांतों की सड़न (पायरिया रोग), हिलना, टूटना, जड़े कमजोर होना आदि दंत विकारों का आयुर्वेद में चमत्कारी चिकित्सा है।

दांतों की यह बीमारी जवानी में ही बूढ़ा बना सकती है। आयुर्वेद में 22 दंतरोगों का उल्लेख है। जाने दांतों का खतरनाक रोग पायरिया के लक्षण, कारण और देशी घरेलू उपाय… दांतों में खराबी, पायरिया, पीप पड़ना, मुंह से बदबू आना, दांतों में दर्द, हिलना, मसूड़ों की सूजन, जीभ स्वादहीन होना आदि सब समस्यायों की […]

Continue Reading

आंखों के लिए एक चमत्कारी माल्ट और नेत्र रोग नाशक दुर्लभ वैदिक मंत्र, जो 25 प्रकार के नेत्रदोष दूर करता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाने में चमत्कारी हर्बल माल्ट नेत्रों का सम्पूर्ण उपचार करेगा!- आयुर्वेदिक ग्रन्थ रस-तन्त्र सार, !!- आयुर्वेद सार संग्रह !!!- भावप्रकाश निघण्टु !v- चरक सहिंता में वर्णित ओषधियों के उपयोग से अपनी आंखों की चिकित्सा घर बैठे कर सकते हैं। अब दूर तक देखो.… अमृतम आई की माल्ट की खास बात यह है कि इसका कोई भी दुष्प्रभाव या […]

Continue Reading

५००० पुराने आयुर्वेदिक योग, जो नामर्द को भी मर्द बनाने की क्षमता रखते हैं।

काम के क्षेत्र में कायदे से चलें, तो बहुत फायदे होते हैं। ज्यादा खट्टी चीजें, आचार आदि सेक्स शक्ति को कमजोर बनाती हैं। काम को रोकने से भी नपुंसकता का उदय होने लगता है। क्या है कामवासना और सेक्स के कायदे? कामवासना स्वाभाविक है। यह प्रकृति की भेंट, परमात्मा का दान है, जो मनुष्य को महान […]

Continue Reading

अब कम उम्र वाली महिलाएं भी हो रही हैं, संतान सुख से वंचित। क्या हैं कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार?

बेचारी नारी, जो कभी नहीं हारी वैसे तो नारी कभी बीमारी के अलावा अन्य किसी से नहीं हारी। कुंवारी होने पर वह मासिक धर्म, पीसीओडी, सोमरोग आदि से पीड़ित रहती है और बाद में संतान की कामना से वह मारी मारी फिरती है। क्योंकि बांझ स्त्री को संसार गारी (गाली या आक्षेप) से कलंकित करता […]

Continue Reading

क्या आयुर्वेदिक दवाओं से पुरुषों में घोड़े जेसी ताकत आ सकती है। जाने आयुर्वेद के 5000 साल पुराने नपुंसकता नाशक तथा जोशवर्धक, जवानी लाने वाले फार्मूले!

आयुर्वेद की हस्तलिखित प्राचीन पांडुलिपियों में मर्दांगनी, ताकत, जोश जवानी लाने योग्य देशी योगों का वर्णन है, जो नामर्द को भी मर्द बनाने की क्षमता रखती हैं। जाने कोन सी हैं वे घरेलू ओषधियां। जो 5 तरह की खतनके नपुंसकता को जड़मूल से मिटा देंगी घोड़े की ताकत जेसी दवा बनाने के 8 फार्मूले मस्तगी, माशा, बैंगन का बीज […]

Continue Reading

सिर में दर्द रहता है। क्या आप डिप्रेशन, डिमेंशिया, दिमागी परेशानी से भयभीत हैं, तो इस अध्यात्मिक ब्लॉग को पढ़िए!

 सिरदर्द के कारण याददाश्त कमजोर होती है?तन तन्त्र का सीधा असर मानव मस्तिष्क पर होता है। इस कारण दिमाग की नाड़ियां या सेल क्रियाहीन होकर शिथिल होने से तन-मन विचलित होने लगता है। याददाश्त कमजोर हो जाती है । आरोग्य प्रकाश और आयुर्वेदिय क्रिया शरीर पुस्तकानुसार सिर ही सारी बीमारियों की जड़ है। रोग कोई भी हो, सर्वप्रथम […]

Continue Reading

शरीर में फुर्ती लाने का सरल तरीका जाने |

आयुर्वेद में वात पित्त कफ को संतुलित करके शरीर को पूर्णतः निरोग बनाया जा सकता है। अमृतम ने आयुर्वेद के 5000 वर्ष प्राचीन पांडुलिपियों, ग्रंथों से उपाय खोजकर संस्कृत के क्लिष्ट श्लोकों को सरल भाषा में अनुवाद कर Amrutam Life Style नामक पुस्तक में संकलित किया है। जिसका अध्ययन कर आप तंदुरुस्ती के अनेकों त्रिकोण से अवगत हो सकते हैं। शरीर […]

Continue Reading

चेहरे को चमकदार बनाने और जवान बनाए रखने में उपयोगी एक आश्चर्यजनक आयुर्वेदिक ओषधि!

महिलाओं के लिए खास ओषधियां… अमृतम कुमकुमादि तेल नारी सौंदर्य माल्ट & कैप्सूलकुंतल केयर हर्बल हेयर स्पा/ऑयल/शैम्पूकुंतल केयर हर्बल माल्ट & कैप्सूल अष्टगंध बोड़ी लोशनऑनियन ऑयलइस लेख में हम अमृतम कुमकुमादि तेल के बारे में गहराई से जानेंगे.. आयुर्वेद में मंजिष्ठा-अनंतमूल, केशर, कमल केसर, चंदन, रक्तचन्दन, लोध्रं, पतंग काष्ठ, रक्त लाख (लाक्षा), -यष्टिमधु (मुलेठी), दारुहल्दी, उशीर, पद्मक, नील कमल, बरगद […]

Continue Reading

पित्तदोष के कारण चेहरा हो जाता है खराब, मुखमंडल फीका होकर चमक मिट जाती है। चेहरा हो रहा है बदसूरत, तो करें ये आयुर्वेदिक उपचार ||

आधुनिक युग की मारामारी और प्रदूषण ने अधिकांश युवक, युवतियों के चेहरे का सर्वनाश कर सुंदरता को खत्म कर दिया है। खानपान की अनियमितता से सबके पेट गड़बड़ हो चुके हैं। जिससे कब्ज आदि अनेक उदर रोग फैलते जा रहे हैं। पेट में गर्मी बढ़ने से पित्त असंतुलित हो रहा है। पित्त की वृद्धि या […]

Continue Reading

कब्ज (कांस्टीपेशन) कैसे मिटाएं। जाने घरेलू देशी इलाज ||

आयुर्वेदिक इलाज़ पूरी तरह प्राकृतिक है जिसका आपके शरीर पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता। इसके कोइवसाइद इफेक्ट नहीं होते। आयुर्वेद में आपको उन सभी रोग ठीक हो जाते हैं। जिनकी चिकित्सा एलॉपथी में भी नहीं है| जैसे: गर्दा यानि किडनी की खराबी के लिए एलॉपथी में डायलिसिस जैसी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है, जो कि […]

Continue Reading
error: Content is protected !!