क्या आसानी से सफलता मिल सकती है? Amrutam

प्रयत्न साधन है, तुम्हे आलस्य छोड़ना पड़ेगा। याद रखो, जीवन श्रम हैं। मृत्यु विश्राम है। अगर मरना है तो कुछ करने की जरूरत नहीं पर अगर जीना हो, तो कुछ करना पडेगा और अगर विराट जीना है, तो विराट संघर्ष, अंदर का उधम बंद कर बाहर का उधम करना होगा। सिद्धि हो या समृद्धि दोनों […]

Continue Reading

कालसर्प, पितृदोष और इसके दुष्प्रभाव क्या हैं? सफलता में रुकावट, धन की तंगी, गरीबी की वजह राहु, केतु और शनि क्यों हैं?

जाने 100 से अधिक राहु के विषय में रोचक और रहस्यमय बातें। क्योंकि राहु की कृपा के बिना जीवन व्यर्थ हो जाता है। ऐसे लोगों की स्थिति कुछ ऐसी हो जाती है कि न खुदा ही मिले, न बिसाले सनम।  न इधर के रहे, न उधर के रहे।    अगर जिंदगी में कुछ कर दिखाना चाहते हो, तो नियम […]

Continue Reading

माथे पर चन्दन का टीका या त्रिपुंड लगाकर जीवन में क्रांति ला सकते हैं। दुर्भाग्य को मिटाता है-त्रिपुंड

जिन पुराण पुस्तकों में चन्दन के विषय पर यह सब जानकारी उपलब्ध है, उनके नाम नीचे दिए जा रहे हैं। ¶मनीषी की लोकयात्रा, ¶महर्षि रमण की आत्मकथा, ¶महान संत स्वामी अड़गड़ानंद जी महाराज, ¶बनारस के परम वेदाचार्य समाधिस्त श्री श्री बालकृष्णजी यति द्वारा रचित कठोउपनिषद, ¶पावहारी बाबा विश्वनाथ की सन्तों की वाणी, ¶अवधूत सन्त किनारामजी […]

Continue Reading

सफलता, समृद्धि-सम्पदा, धन बढ़ाने के लिए शुक्र को कैसे प्रसन्न करें?…

■ जन्मपत्रिका का शुक्र की स्थिति…. ■ दीपावली की रात दीपदान का क्या रहस्य है?… चांदी के छल्ले या अंगूठी के बारे में भय-भ्रम मिटाने वाली 73 रोचक और अदभुत जानकारी पढ़ें… ■ क्यों दीपावली उत्सव के कारक हैं-शुक्राचार्य?… ■ क्या चांदी पहनने से समृद्धि आती है? ■ क्या शुक्र ग्रह बिना रत्न के भी बलवान हो […]

Continue Reading

सफलता कैसे मिलती है, इसके मापदंड क्या हैं।

सफलता के मानदंड/मापदंड आपके सपने, सोच, विचारधारा तथा संदर्भ पर निर्भर करते हैं। एक व्यक्ति एक सफलता पर विचार कर पैदा कर ऊर्जा से सराबोर हो सकता है जिसे दूसरा व्यक्ति विफलता मानता है। सफलता अपेक्षाओं या सपनो की एक निर्धारित सीमा को पूरा करने की अवस्था है। सफलता को विफलता के विपरीत के रूप में […]

Continue Reading
error: Content is protected !!