एक रहस्यमयी शैतानी पुस्तक, जिसे एक रात में लिखा गया!

Spread the love
इसे धर्म की एक महत्वपूर्ण

 एक ऐसी भी किताब है जिसे डेविल्स बाइबिल कहा गया है अर्थात ” शैतान की किताब ” ।

अमृतमपत्रिका के पाठकों को जानकर शायद हैरानी होगी कि इस किताब को सिर्फ एक दिन में लिखा गया है और इसको किसने लिखा है यह कोई नहीं जानता इसीलिए इसे दुनियां की सबसे रहस्यमयी किताब कहा गया है ।

हकीकत तो यह है कि अब इसे पता कर पाना भी नामुमकिन सा है । इस किताब को कोडेक्स गिग्स के नाम से भी जाना जाता है । यह किताब जादू के मन्त्रों और तरीकों से भरी हुई है और इसमें बड़े ही डरावने चित्र भी देखने को मिलते हैं ।

इस किताब के पहले पन्ने में ही शैतान की तस्वीर बनी हुई है जो दिखने में बहुत ही डरावना है ।

इस किताब के पन्ने कागज के नहीं बल्कि चमड़े से बने हुए हैं और इन्हीं चमड़े से बने पन्नों पर लिखा गया है । इस किताब का वजन लगभग 85 किलोग्राम है । यह इतनी बड़ी और भारी किताब है कि इसे कोई अकेला व्यक्ति नहीं उठा सकता ।

कब लिखी थी यह किताब

तेरहवीं शताब्दी में एक व्यक्ति जिसको कुछ प्रतिज्ञाओं को तोड़ने की वजह से दीवार में चुनवा देने की सजा मिली थी और उसी सजा की वजह से अपने आखिरी समय में उसने सिर्फ एक रात का समय माँगा और एक रहस्यमयी किताब लिखने की इच्छा व्यक्त की तो उसे इसकी आज्ञा मिल गयी और वह किताब लिखने लगा । लेकिन जब उसने देखा कि वह एक रात में पूरी किताब नहीं लिख सकता तो उसने कुछ मन्त्रों का जाप शुरू कर दिया और शैतान को बुला लिया और उस शैतान को अपनी आत्मा बेच दी उसके बदले में उसी शैतान से रातभर में पूरी किताब लिखवा दी ।

लेकिन लोगों का मानना है कि चमड़े के पन्नों की इस मोटी सी किताब को सिर्फ एक रात में लिखना नामुमकिन है और इसे लिखने के लिए कम से कम 20 से 25 साल का समय लग जाएगा ।

ऐसे ही रोचक और रहस्यमय प्रश्नों के उत्तर जानने के लिए अमृतमपत्रिका से जुड़ें या गूगल पर सर्च करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *