गधी का दूध महंगा क्यों है?

गधी का दूध 7000 से 10 हजार रुपए किलो बिकता है? हरियाणा किसी ने गधी के दूध की डेयरी डाली है।वैसा किसी अखबार में पढ़ा था। गधे की 15 मशहूर कहावते जरूर पढ़ें- आयुर्वेदिक निघन्टुकार ने केवल इतना लिखा है कि बहुत ही विशेष परिस्थितियों या पागलपन में गधी का दूध केवल 2 चम्मच से 15 Ml तक […]

Continue Reading

भारत के रहस्यमयी स्थान? जहाँ जाना खतरे से खाली नहीं है

जीवन में यात्रा जरूर करना चाहिए। व्याकरण की शुद्धि में मात्रा और अंतःकरण की पवित्र के लिए यात्रा अवश्य करें। यात्रा में घाटी चढ़ने से आत्मविश्वास मजबूत होता है और व्यापार घाटा होने से ज्ञान बढ़ता है। घाटा दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गुरु है। आज आपको ले चलते हैं राजस्थान की यात्रा पर…. यह अद्भुत मन्दिर […]

Continue Reading

क्या सुंदरता की कोई परिभाषा भी है?

आयुर्वेद और अध्यात्म का मानना है कि खूबसूरती तप-योग, साधना करने के साथ-साथ सरल-सहज, निर्विकार, निर्विवाद, निर्विचार, निर्विकल्प और निरोग होने से बढ़ती है। सुंदरता मन की भी होती है और तन की भी। यदि अंदर से पवित्रता आ जाये, तो मुखमण्डल अपने आप चमकने लगता है। कहा भी है-तेरा साईं तुझमें है। वही सबसे […]

Continue Reading

100 वर्ष पुरानी दुर्लभ तस्वीरें?

जगलर तलवार निगलते हुए ! भारत 1980 में ! हैदराबाद की राजकुमारी बेरर दुर्रू शहवर ! श्री जवाहर लाल नेहरू अल्बर्ट आइंस्टाइन से मिले ! स्वामी विवेकानंद शिकागो में 1893 में ! सिपोय 1857 ! वोडेयर्स का दरबार – मैसूर के महाराजा ! हाथी की गाडी 1903 ! बड़ौदा, गुजरात में हिरण द्वारा खींचा गया […]

Continue Reading

फिल्मी एक्टर नसीरुद्दीन शाह किसके वंशज हैं?

झांसी रानी का दुश्मन: बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाह का परिवार मूल रूप से अफगानिस्तान के काबुल के रहने वाला है। जन फिशन खान नसीरुद्दीन शाह के परदादा का परदादा था। वह एक भाड़े का सैनिक था जिसने लगभग 5000 सैनिकों की कमान संभाली थी। वह और उसकी सेना क्रूरता के लिए विख्यात थी (“जन फ़िशन” […]

Continue Reading

हींग क्या होती है?

इस लेख में हींग के 45 फायदे जानकर आनंदित हो जाएंगे— असन्तुलित वात-पित्त-कफ अर्थात त्रिदोष की पहचान खुद ही करें आयुर्वेदा लाइफ स्टाइल बुक पढ़कर और अपना इलाज घर पर करें- हींग क्या होती है? हींग के फायदे। हींग के प्रकार, शुद्ध हींग की पहचान, हींग के उपचार, हींग की खेती आदि अनेक शीर्षकों से गूगल पर […]

Continue Reading

ग्वालियर मप्र के महान सूर्य उपासक, तपोनिष्ठ महर्षि ग्वालेर, ग्वाला ने खोजा था शून्य/जीरो…

■ संगीत सम्राट तानसेन की संगीत साधना स्थली विश्व विख्यात है। बहुत कम लोगों को मालूम होगा कि संगीत के क्षेत्र में ग्वालियर घराना सदियों से सम्मानित है। ■ देश-दुनिया में मोती वाले राजा के नाम से ख्यातिप्राप्त सिंधिया परिवार के माधो महाराज ने ग्वालियर को ब्रिटेन के तर्ज पर बसाया था। सिंधिया राजघराने के […]

Continue Reading

क्या कोई छठा तत्व है? यदि हाँ, तो क्या है?

ध्यान-धैर्य-धर्म के 23 सूत्र और फायदे— छठा तत्व स्वयम इंसान है, जो अपनी साधना-उपासना से पांचों तत्वों को अपने वश में कर सकता है। वेदों में लिखा है- !!यत् पिंडे-तत् ब्रह्माण्डे!! अर्थात सृष्टि/ब्रह्मांड में जो भी कुछ है, वह सब हमारे अंदर भी है। अपने मन-मस्तिष्क की शक्तियों को अपने अंदर ही समेट कर परमहंस बन सकते हैं। धैर्यपूर्वक ध्यान देंवें— सर्जन ओर विसर्जन में […]

Continue Reading

अगर आप को पता चले कि आप को करोना हो गया है तो आप सबसे पहले क्या करेंगे?

देश के जाने-माने चिकित्सकों ने कोरोना से बचने के कुछ विशेष तरीके सुझाएँ हैं। आप कुछ खास परम्परा गत उपाय अपनाकर कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रह सकते हैं- 1¶~ एकान्तवास, ध्यान। 2¶~ प्रातः ब्रह्म महूर्त में जागना। 3¶~ सुबह साढ़े जल 1 लीटर करीब पीना। (गर्म-गुनगुना नहीं पीना है।) 4¶~ सकारात्मक सोच, विचार। 5¶~ नियम […]

Continue Reading

परिजात का पौधा मोदीजी ने राममंदिर, अयोध्या में रोपित क्यों किया, जबकि अन्य वृक्ष भी थे?

परिजात शब्द का अर्थ भी जाने… पर्यावरण परिवार में इस जाति का अन्य कोई वृक्ष इस धरती पर उपलब्ध नहीं हैं। कल्पवृक्ष, कल्पलता, कल्पद्रुम, कायाकल्प, कल्पतरु, देववृक्ष, हरश्रृंगार आदि इसके अर्थ हैं। परिजात को प्रणाम— परिजात एक दिव्य वृक्ष है, जो सभी धर्म के देवी-देवताओं को प्रिय है। रात के समय इस वृक्ष को देखने […]

Continue Reading
error: Content is protected !!